Thursday, September 8, 2011

जन्म दिन पर मन्नू के लिये






सुबह-सुबह की पहली धूप
मुबारक़ हो ।
पार किये उनतीस अनूप
मुबारक़ हो ।
बाँहों में कोमल
विहान सा ही उजला
अपना यह प्यारा प्रतिरूप
मुबारक़ हो ।

9 सितम्बर

11 comments:

  1. नौ तारीख सितम्बर की यह भोर सुहानी,
    शातायुश्य तुम प्राप्त करो वर देवें भवानी,
    छोटे मुन्ने गोद में जब किलकारी भरते
    अम्मा कहतीं, मुन्ने का पापा है मुन्नू!

    ReplyDelete
  2. इस अतुल्य आशीष के लिये आभारी हूँ

    ReplyDelete
  3. आप सबको शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  4. बहुत प्यारी कविता है मम्मी

    ReplyDelete
  5. ढेरों आशीष...

    बधाइयाँ...

    ReplyDelete
  6. आप सबकी अत्यन्त आभारी हूँ । शुभ-कामनाएं यूँ हीं आती रहें। उम्मीदें बढाती रहें । कदम मेरे आगे बढते रहेंगे ,आपकी प्रेरणाएं राह दिखाती रहें ।

    ReplyDelete
  7. बधाइयाँ... बधाइयाँ... बधाइयाँ... बधाइयाँ...

    ReplyDelete
  8. बधाई और बहुत शुभकामनाएं ...

    ReplyDelete